2 जनवरी को नए साल का जश्न मनाने पृथ्वी के करीब आ रहा है सूरज, पृथ्वी के होगा सबसे नज़दीक

एक तरफ जहां भारत के कई हिस्सों में कड़ाके की ठंड पड़ रही हैं वहीं दूसरी ओर अंतरिक्ष में एक खगोलिय घटना घटने वाली है। शुक्रवार से नव वर्ष 2021 की शुरुआत हो गई। लेकिन इस बार नये साल का जश्न मनाने के लिए सूर्य भी निरंतर पृथ्वी के पास आ रहा है। दरअसल शनिवार दो जनवरी को सूर्य इस नये साल में पृथ्वी के सबसे नजदीक आ जाएगा। इस दौरान पृथ्वी और सूर्य के बीच की दूरी घटकर 147,093,163 किलोमीटर रह जाएगी। इसके बाद यह दूरी बढ़ने लगेगी और छह जुलाई को दोनों के बीच की दूरी 152,100,527 किलोमीटर हो जाएगी। साल की सूरज और पृथ्वी के बीच की यह सर्वाधिक दूरी होगी।

2 जनवरी को पृथ्वी, सूर्य के सबसे नजदीक रहेगी

भोपाल की राष्ट्रीय अवार्ड प्राप्त विज्ञान प्रसारक सारिका घारू ने शुक्रवार को बताया कि पृथ्वी अंडाकार पथ पर सूर्य की परिक्रमा करती है, जिससे साल में एक बार यह दूरी सबसे कम, जबकि साल में एक बार यह सबसे अधिक होती है। शनिवार, 02 जनवरी को पृथ्वी, सूर्य के सबसे नजदीक रहेगी। इस दौरान सूर्य और पृथ्वी के बीच फासला घटकर साल का सबसे कम होगा। दोनों के बीच की दूरी 147,093,163 किमी रहेगी, जबकि छह जुलाई को इनके बीच की दूरी बढ़कर सर्वाधिक 152,100,527 किमी हो जाएगी।

पास और दूरी का यह क्रम हर साल थोड़ा बदल जाता

सारिका ने बताया कि पृथ्वी की कक्षा की विलक्षणता के कारण किसी निश्चित दिनांक एवं समय पर यह पास नहीं आते, बल्कि इनके बीच की दूरी का यह क्रम हर साल थोड़ा बदल जाता है। वर्ष-1246 में 21 दिसंबर को जब उत्तरभाग में साल का सबसे छोटा दिन होता है, तब पृथ्वी और सूरज इतने पास आए थे। इस साल यह घटना शनिवार को घटने जा रही है। नये साल में पास आये सूरज के बावजूद पृथ्वी के झुकाव के कारण उत्तरी भाग में पड़ रही ठंड का आनंद ले सकते हैं और पास आये सूरज की गुनगुनी धूप में कोविड गाइड लाइन के साथ नये साल के पहले वीकेंड का लुत्फ उठा सकते हैं।

( एजेंसी )

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *